Music se Chakras

0
85
Music Chakras
Music Chakras

 म्यूजिक से कुंडलिनी जागरण Music se Chakras

 

कुंडलिनी जाग्रत करने के बहुत से तरीक़े हैं जैसे ध्यान, योग, तंत्र, मंत्र एवं गुरु के द्वारा भी Chakras जाग्रत की जाती है।
किन्तु आज हम बात कर रहे हैं साउंड से कुंडलिनी जाग्रत करने के लिए कुछ फ्रीक्वेंसी सेट करके भी की जा सकती हैं।
सन 1974 में डॉ जोसेफ़ पोइनो ने एक रिसर्च किया।

15 वर्ष की रिसर्च के बाद उन्होंने पाया कि जब हम कुछ सोच रहे होते हैं।
तब हमारा माइंड अलग अलग प्रकार की फ्रीक्वेंसी उत्पन्न करता है।

चाहे हम खुश हों या दुखी कुछ काम कर रहे हों या सैक्स एवं रोते हुए और हसते हुए भी अलग अलग प्रकार फ्रीक्वेंसी हमारा माइंड उत्पन्न करता है।

kundlini jagran

जब हम कुछ सोच रहे होते हैं, गुस्सा कर रहे होते हैं या किसी से बात कर रहे होते हैं।

प्रेम कर रहे होते हैं या किसी की बुराई कर रहे होते हैं।
तब हमारा माइंड वो electron इलेक्ट्रान फ्रीक्वेंसी जो पैदा कर रहा होता है।

उन्होंने उस पर रिसर्च की और जाना कुंडलिनी जागरण में भी जो हमारे 7 चक्र होते हैं।

जिन्हें अध्यात्म में Saven Chakras कहा गया है।
किन्तु विज्ञान में इन्हें ग्लांड कहा गया है।

तब उन्होंने हमारे वैदिक मंत्रों पर भी रिसर्च की और पाया कि जब हम लं, वं, रं, यं, हं, उं, ॐ बोलते हैं तो कोनसी फ्रीक्वेंसी उत्पन्न होती है।
तब उन्होंने इसको खोजा और एक म्यूजिक तैयार किया।

एवं लोगो को सुनाया उसका यह रिजल्ट रहा जो व्यक्ति 20 -30 सालों से लगे थे उनको छः माह या एक वर्ष में ही रिजल्ट मिल गया उनकी कुंडलिनी जाग्रत हो गई।

चक्र से ग्रह का सीधा संबंध होता है-: read…

अंग्रेजों ने म्यूजिक सुना सुना कर अपने बच्चों को सुपर चाइल्ड बना दिया |


लेकिन बच्चों पर यह बहुत जल्दी प्रभाव लाया क्योंकि बच्चों का माइंड स्वच्छ होता है एवं ग्रंथियां कोमल होती हैं।
बच्चों का माइंड आधा डिस्टर्ब करने वाली फ्रीक्वेंसी पैदा नही करता है। बल्कि निर्मल फ्रीक्वेंसी पैदा करता है

यही कारण है जब 6 वर्ष से 14 वर्ष तक के बच्चों का मिड ब्रेन कराया जाता है म्यूजिक सुना कर तो उनकी तीसरी आँख जल्दी खुल जाती है।

कुछ बच्चों की एक हप्ते में कुछ की 3 हफ्तों में ही खुल जाती है।
बस मुझे दुख इस बात का है कि भारत की यह अनमोल विद्या भारतीय समझ ही नही पाते हैं।

चमत्कारी बाबाओं  से नाम दीक्षा लेने में लगे रहते हैं कि बाबा जी कोई मंत्र देंगें एवं चमत्कार हो जायेगा।
वहीं अंग्रेजों ने म्यूजिक सुना सुना कर अपने बच्चों को सुपर चाइल्ड बना दिया और हम आज भी बाबा जी के आगे दंडवत हैं।

kundlini jagran

जानते हैं कौनसी फ्रीक्वेंसी पर कौन सा Chakras जाग्रत होता है

1. मूलाधार चक्र- UT 396 HZ
2. स्वाधिस्ठानचक्र- RA 417 HZ
3. मणिपुर चक्र- MI 528 HZ
4. अनाहतचक्र- FA 639 HZ
5. विशुद्धि चक्र- SOL 741 HZ
6. आज्ञा चक्र- LA 852 HZ
7. सहस्त्रार चक्र- 963 HZ

meditation

 

MI 528 HZ की फ्रीक्वेंसी सुनने से आपका DNA रिपेयर भी होता है।

यानी कि आपकी बॉडी में कोई परेशानी है जेनेटिक प्रोब्लम है या फिर कोई ख़ानदानी बीमारी है।
इस फ्रीक्वेंसी के सुनने से ये सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं।
जो व्यक्ति इन फ्रीक्वेंसी को मन्त्रों के द्वारा उत्पन्न करने में असमर्थ हैं।
वे इन फ्रीक्वेंसी के म्यूजिक सुन कर भी इनका लाभ ले सकते हैं।
ये ऐसे ही जैसे किसी के शरीर में रोगप्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है।
फिर उस मनुष्य को उपचार करने के लिए डॉक्टर के पास जाना होता है एवं दवाइयों  का सहारा लेना होता है।
इसी प्रकार आप म्यूजिक का प्रयोग कर सकते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here