GANGA NADI में पैसे क्यूँ नही डालने चाहिये

1
80
GANGA NADI
GANGA NADI

गंगा में पैसे क्यूँ नही डालने चाहिये

क्योंकि हम Ganga Nadi में पैसे डालकर अपने उज्ज्वल भविष्य की कामनां करते हैं  लेकिन अनजाने में हम अपने ही भविष्य को बर्बाद कर रहे हैं।

गंगा में पैसे डालने के साइड इफ़ेक्ट:-

ganga, nadi
गंगा
 हम Ganga Nadi में पैसे डालते हैं उससे क्या फायदा होता ?
शायद आपके पास कोई जवाब ना हो लेकिन उस से क्या नुकसान होगा उसका जवाब मेरे पास है।
1:- गंगा  में पैसे डालकर हम अपने देश की सम्पत्ति नष्ट कर रहे हैं।
2:- गंगा में पैसे डालकर हम अपने देश की मुद्रा का अपमान कर रहे हैं।
3:- गंगा में पैसे डालकर हम अपनी मुद्राओं को नष्ट करके अपने देश को आर्थिक रूप से कमजोर कर रहे हैं।
जिसका 1 मात्र कारण हम हैं।
4:- गंगा में पैसे डालकर हम, जीवन रेखा कही जाने वाली गंगा जल को हम दूषित कर रहे हैं।
5:- गंगा में सिक्के डालने से सिक्के पर जंग लग सकता है।
जिसके कारण जल दूषित हो जायेगा और भविष्य में हम सोच भी नही सकते कितना बड़ा सिक्कों का भंडार गंगा की सतह में जम जायेगा।
उन जंग लगे सिक्कों से गंगा जल कैसा होगा वो तो आप अंदाजा लगा ही सकते हैं।
6:- Ganga Nadi में सिक्का डालते हुए उस सिक्के के सम्पर्क में जितने भी गंगा जल में पल रहे जीव  आयेंगे उनकी मृत्यु लगभग तय है।
  उनकी मृत्यु का क्रेडिट तो आपको जायेगा ही साथ ही उनके मरने से जो सड़न पैदा होगी और जल दूषित होगा उसके जिम्मेवार भी आप ही होंगे।

ARANDI KA TEL-: Read

Ganga Nadi, Ganga Maa
Ganga
7:-  गंगा में डाला हुआ सिक्का अगर कोई मछली निग़ल जाये तो वह मर भी सकती है।
जिसके जिम्मेदार भी सिर्फ आप ही होंगे और कोई नही।
8:-  Ganga Nadi में सिक्के डालकर आप तो चले जाते हैं।
लेकिन पीछे से कुछ बच्चे रस्सी में चुम्बक बाँध कर उन पैसों को निकालने की कोशिश करते हैं।
💰जिसके कारण बच्चे की गंगा में गिरने से मौत भी हो सकती है। आपने सोचा है कभी उसका जिम्मेदार कौन होगा…
शायद आप।
💰अगर बच्चा वो पैसे निकालने में कामयाब हो जाता है तो उस बच्चे का भिखारी बनना तय है।
उसके मन मे लालच आयेगा और वो अपनी पढ़ाई छोड़ कर वहाँ आयेगा।
और 1 दिन वो कब भिक्षु बन जायेगा उसे भी पता नही चलेगा उसका जिम्मेदार कौन होगा।
शायद आप …
सोच कर देखो अग़र Ganga Nadi में पैसे डालने से आपका भला हो जाता तो आज कोई जेल में ना होता ।
सब पैसे डालकर अपना भला  करा रहे होते।
 आप से मेरा निवेदन है अब बस करो इससे अधिक गंगा नदी को दूषित मत करो।

अभी भी समय है हम जीवन रेखा कही जाने वाली गंगा नदी को बचा सकते हैं।

 
           माँ गंगा के लिये  कुछ शब्द समर्पित

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here